jharkhand

क्रिप्टो करेंसी में मुनाफा का झांसा देकर 19.50 करोड़ की ठगी, जिसके बाद हुआ बड़ी कार्रवाई

Desk : क्रिप्टो करेंसी में भारी मुनाफा का झांसा देकर झारखंड के बोकारो के लगभग 2500 लोगों से 19.50 करोड़ रुपये की ठगी करने का मामले सामने आया है । आपको बता दें कि, आरोपित ब्रह्मपुरा थाने के सोडा गोदाम मोहल्ला निवासी शशिशंकर कुमार उर्फ विक्की को रांची साइबर थाने की पुलिस ने गिरफ्तार किया है । गिरफ्तार करने के लिए रांची के साइबर थाने की पुलिस शुक्रवार को ही रात ही ब्रह्मपुरा पहुंची थी । सुबह साढ़े 5 बजे ब्रह्मपुरा थाना पुलिस के सहयोग से उसके घर पर छापेमारी की गई । वह घर में सोया था। घर की तलाशी लेने पर क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने में उपयोग किया जाने वाला इलेक्ट्रानिक डिवाइस मिला जिससे जब्त कर लिया गया । उसे ट्रांजिट रिमांड के लिए रांची पुलिस ने मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) पंकज कुमार लाल के कोर्ट में पेश किया । सीजेएम कोर्ट ने उसे रांची के कोर्ट में पेश करने के लिए 24 घंटे के ट्रांजिट रिमांड की अनुमति दे दी है । इसके बाद रांची पुलिस उसे अपने साथ ले गई। वहीं उसके विरुद्ध बोकारो जिला के चास थाना के तेलडीह निवासी राशन व्यवसायी संतोष कुमार ने झारखंड के सीआइडी के महानिदेशक को आवेदन दिया था । सीआइडी के महानिदेशक के आदेश पर पिछले साल 9 नवंबर को रांची साइबर थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई थी । ब्रह्मपुरा थानाध्यक्ष मो.आलम ने बताया कि रांची साइबर थाने की पुलिस ने छापेमारी कर विक्की को गिरफ्तार किया है। इस छापेमारी में ब्रह्मपुरा थाना पुलिस ने सहयोग भी किया है । रांची साइबर थाने की पुलिस उसे ट्रांजिट रिमांड पर साथ ले गई।

Related Articles

Back to top button