BiharCrime News

एक दिव्यांग की कारनामा देख एसएसपी रह गए दंग, फिर कर दिया हेकड़ी टाइट…

Desk : बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के पुलिस ने अपराध पर लगाम लगाने को लेकर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है । आपको बता दें कि, जिंदा कारतूस का सप्लाई करने वाला गिरोह का पर्दाफास कर आरोपी को गिरफ्तार किया है । बता दें कि, आरोपी उत्तर बिहार के कई जिलों में गोलियों को सप्लाई करने का काम करता था । वहीं जिनके पास से कुल 800 राउंड पिस्टल की गोली बरामद किया गया है । साथ ही 11 मोबाइल फोन भी जप्त कर लिया गया है । यह कार्रवाई जिले के बेनीबाद इलाके में की गई है । हालांकि, गिरफ्तार आरोपी जो बेनीबाद इलाके का आशिक अंसारी बताया गया है । जो दिव्यांग होने की वजह से पुलिस के आंखों में धूल झोंककर अपना साम्राज्य कायम कर रखा था ।

वहीं पुलिस को गुप्त सूचना मिलने के बाद कार्रवाई की गई है । इस कार्रवाई को लेकर वरीय पुलिस अधीक्षक ने एक टीम गठित किया, और छापेमारी करना शुरू की । वहीं इस मामले पर एसएसपी राकेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि, बेनीबाद इलाके में गुप्त सूचना मिली थी एक दिव्यांग के द्वारा बड़े पैमाने पर गोलियों की सप्लाई की जाती है । पुलिस को चकमा देने के लिए वह कीपैड मोबाइल इस्तेमाल करता था। पुलिस ने बेनीबाद इलाके से यह कार्रवाई की है और जिंदा कारतूस का सप्लायर आशिक अंसारी को गिरफ्तार किया । जिनके पास से 800 जिंदा कारतूस बरामद हुई है । जिनका अपराधिक इतिहास पता किया जा रहा है ।

Desk : बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के पुलिस ने अपराध पर लगाम लगाने को लेकर पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है । आपको बता दें कि, जिंदा कारतूस का सप्लाई करने वाला गिरोह का पर्दाफास कर आरोपी को गिरफ्तार किया है । बता दें कि, आरोपी उत्तर बिहार के कई जिलों में गोलियों को सप्लाई करने का काम करता था । वहीं जिनके पास से कुल 800 राउंड पिस्टल की गोली बरामद किया गया है । साथ ही 11 मोबाइल फोन भी जप्त कर लिया गया है । यह कार्रवाई जिले के बेनीबाद इलाके में की गई है । हालांकि, गिरफ्तार आरोपी जो बेनीबाद इलाके का आशिक अंसारी बताया गया है । जो दिव्यांग होने की वजह से पुलिस के आंखों में धूल झोंककर अपना साम्राज्य कायम कर रखा था । वहीं पुलिस को गुप्त सूचना मिलने के बाद कार्रवाई की गई है । इस कार्रवाई को लेकर वरीय पुलिस अधीक्षक ने एक टीम गठित किया, और छापेमारी करना शुरू की । वहीं इस मामले पर एसएसपी राकेश कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि, बेनीबाद इलाके में गुप्त सूचना मिली थी एक दिव्यांग के द्वारा बड़े पैमाने पर गोलियों की सप्लाई की जाती है । पुलिस को चकमा देने के लिए वह कीपैड मोबाइल इस्तेमाल करता था। पुलिस ने बेनीबाद इलाके से यह कार्रवाई की है और जिंदा कारतूस का सप्लायर आशिक अंसारी को गिरफ्तार किया । जिनके पास से 800 जिंदा कारतूस बरामद हुई है । जिनका अपराधिक इतिहास पता किया जा रहा है ।

Related Articles

Back to top button