Bihar

मुखिया ने नाबालिग का अपहरण कर किया दुष्कर्म, रेप के कारण पीड़िता ने दिया बच्चे को जन्म…

द इंडिया टॉप, सेंट्रल डेस्क: मुजफ्फरपुर जिले के गायघाट थाना की लोमा पंचायत से एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने मानव जाती को शर्मशार कर दिया है। यहां पूर्व मुखिया 17 साल की एक बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसे गर्भवती कर दिया। दुष्कर्म के कारण बच्ची गर्भवती हो गई। बताया जा रहा है कि मुखिया और उनके साथियों ने मिलकर पहले बच्ची का अपहरण कर लिया था और 1 साल तक उसके साथ दुष्कर्म किया था। पीड़िता ने बीते माह एक बच्चे को जन्म दिया और कानून से बच्चे के हक़ की मदद का गुहार लगा रही है।

बताया जा रहा है कि पूर्व मुखिया मनोज सहनी व उसके साथियों ने मिलकर गांव की एक 17 साल की लड़की का अपहरण कर एक साल तक गैंगरेप किया। बीते शनिवार को मामले की लिखित शिकायत दर्ज कराइ गई है। पूर्व मुखिया ने अपने दो सगे भाइयों कंचन सहनी, सोनू सहनी और साथियों के साथ मिलकर इस घटने को अंजाम दिया है। घटना की सूचना मिलते ही इलाके में हड़कंप मच गया है।

पिछले वर्ष किया था अपहरण

पूर्व मुखिया व उसके साथियों पर कई तरह के आरोप लगाए गए हैं जिसमे अपहरण, अपहरण की साजिश रचने और दुष्कर्म जैसा मामला शामिल है। पीड़िता ने थाने जाकर बताया कि जब मई 16 साल की थी तब इनलोगों ने मेरा अपहरण कर लिया था। वहां जान मारने की धमकी देकर कंचन सहनी, सोनू सहनी, मनोज सहनी व इनके अज्ञात साथी गैंगरेप करते रहे। हद तो तब हो गई जब लड़की गर्भवती हो गई। उनलोगो ने उसे शादी का झांसा देकर छोड़ दिया।

कई आरोपी गिरफ्तार

पीड़िता ने बताया की जब वो थाने जाकर मामले की शिकायत करती है तो उसे जान से मारने की धमकी दी जाती है। लड़की काफी डर गई थी। वहीं थानाध्यक्ष नरेंद्र कुमार ने बताया कि पीड़िता के आवेदन पर पॉक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। पांच नामजद व तीन अज्ञात को आरोपित किया गया है। कंचन की मां शैल देवी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस अन्य आरोपी की छानबीन में जुट गई है और उन्हें गिरफ्तार करने की कोशिश कर रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button