Biharबड़ी खबर ।

पटना बुद्धा कॉलोनी में सरकारी कर्मियों की शराब पार्टी, महिला समेत 4 गिरफ्तार, अलमारी से रखी थी शराब

बिहार में शराबबंदी होने के बावजूद भी धड़ल्ले से शराब की बिक्री हो रही है. सूबे के अन्य जिलों के साथ-साथ राजधानी पटना में भी अवैध शराब का कारोबार खूब चल रहा है. खुद नीतीश सरकार के कर्मी भी शराबबंदी कानून की हवा निकालने में लगे हुए हैं. ताजा मामला राजधानी के प्रसिद्ध बुद्धा कॉलोनी इलाके की है. यहां शराब पार्टी करते सरकारी कर्मियों को शराब की दर्जनों बोतल के साथ अरेस्ट किया गया है.

मामला बुद्धा कॉलोनी थाना इलाके की है. यहां शराब पार्टी करते पुलिस ने तीन लोगों को अरेस्ट किया है,जिसमें से दो लोग सरकारी कर्मी हैं. जबकि एक शख्स दवा कारोबारी है. बुद्धा कॉलोनी के थानाध्यक्ष ने फर्स्ट बिहार को जानकारी दी कि जिन तीन लोगों को पकड़ा गया है, उसमें से जहानाबाद के स्टेशन रोड के रहने वाले उमाकांत शर्मा का बेटा दीपक कुमार कुमार शामिल है, जो केनरा बैंक मोकामा में पोस्टेड है. इसके अलावा जमुई जिले के चकाई थाना इलाके के रहीमा चकाई के रहने वाले स्व० पॉल किस्कु के बेटे मनवेल किस्कु को दबोचा गया है, जो बिहार विद्यालय परीक्षा समिति में पदस्थापित है.

थानाध्यक्ष ने आगे बताया कि बुद्धा कॉलोनी थाना के उत्तरी मंदिरी नाला स्थित संजय कुमार के मकान में रहने वाले बालकृष्ण मिश्रा के बेटे विद्यासागर को अरेस्ट किया गया है. विद्यासागर पेशे से एमआर है, जो दवा का कारोबार करता है. इनके खिलाफ बुद्धा थाना में कांड संख्या- 251/21 दर्ज किया गया है. इनके पास से अलमीरा में छिपाकर रखी गईं दो दर्जन से अधिक शराब की बोतलें पकड़ी गई हैं. इसके अलावा खाली बोतल और ग्लास भी पकड़ा गया है, जिसमें ये शराब का पैग बनाकर पी रहे थे. उसी वक्त पुलिस ने छापेमारी की और इन्हें पकड़ लिया.

इनके अलावा बुद्धा कॉलोनी थाने की टीम ने एक महिला, रिंकी देवी को गिरफ्तार किया है, जो चीना कोठी के रहने वाले महावीर धागर की पत्नी बताई जा रही है. रिंकी देवी के पास से देसी और विदेशी शराब पकड़ा गया है. इस महिला के खिलाफ बुद्धा थाना में कांड संख्या- 251/21 दर्ज किया गया है. पुलिस ने सभी को न्यायायिक हिरासत में जेल भेज दिया है. आगे की कार्रवाई की जा रही है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button