BiharEducation News

अगर आपने मुख्यमंत्री स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड से लोन लिया है, तो अवश्य करें ये काम.. नहीं तो होगी कानूनी कार्रवाई…

Desk : मुख्यमंत्री स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड से लोन लेने वाले एक हजार छात्रों को डीआरसीसी कार्यालय से नोटिस भेजा जा रहा है। ये वो छात्र हैं जिन्होंने मुख्यमंत्री स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड से पूर्व में लोन लिया था । वहीं अब इनकी कोई जानकारी विभाग के पास नहीं है । जिसके बाद विभाग अब नोटिस भेजने का काम कर रही है । कई छात्रों ने तो अपने मोबाइल नंबर तक बदल लिए हैं। आने वाले दिनों में इनके खिलाफ केस भी दर्ज किया जा सकता है ।

उच्च और तकनीकी शिक्षा ग्रहण करने को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश ने मुख्यमंत्री स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना शुरू की हुई है। इस योजना से लाभ लेने वाले ऐसे एक हजार छात्र-छात्राओं को चिह्नित कर लिया गया है । जिन्होंने मुख्यमंत्री स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड से पूर्व में लोन लिए थे । ऐसे विद्यार्थी को डीआरसीसी DRCC कार्यालय से नोटिस भेजा जा रहा है।

आपको बता दें कि, लोन लेने वाले को इस तरह के तीन नोटिस भेजे जाएंगे। इस नोटिस के बाद भी अगर लोन की राशि का भुगतान नहीं करते हैं, तो वैसे छात्रों के खिलाफ जिला मुख्यालय में सर्टिफिकेट केस दर्ज किया जाएगा। बताया गया कि, अभी वर्तमान में 47 छात्रों पर सर्टिफिकेट केस दर्ज कराने के लिए भेजा गया है, वहां से वैसे छात्रों को लीगल नोटिस भेजा जाएगा । उसके बाद केस दर्ज किया जाएगा।

लोन लेने के बाद छात्रों ने बदल लिया अपना मोबाल नंबर

मुख्यमंत्री स्टूडेंट कार्ड में लोन लेकर उच्च और तकनीकी शिक्षा को पूरा किए हैं, या नहीं। जिन छात्रों ने शिक्षा पूरा करने के बाद नौकरी मिली है, या नहीं। इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई है। सैकड़ों विद्यार्थियों ने पंजीकृत मोबाइल नंबर को भी बदल लिया है । फिर भी वैसे छात्रों को डीआरसीसी कार्यालय में कागजात के आधार पर खोज निकाला है । जिनपर अब कानूनी कार्रवाई की जाएगी ।

अगर छात्रों ने लोन लिया है वे अपनी सही बात डीआरसीसी कार्यालय में जाकर सही जानकारी उपलब्ध कराएं । आखिर किस कारण से लोन की राशि जमा नहीं कर रहे हैं। वैसे छात्रों की बात सुनी जाएगी । इसके लिए संबंधित पदाधिकारी से संपर्क कर शपथ पत्र के साथ जानकारी देनी होगी । ऐसा करने से लोन की किस्त को स्थगित किया जा सकता है । इसलिए जरूरी है कि विद्यार्थी अपनी आर्थिक स्थिति से डीआरसीसी कार्यालय में जाकर अवगत कराएं।

Related Articles

Back to top button