Bihar

Hulas Pandey ने ब्रह्मेश्वर मुखिया को मारी थी गोली, हत्या की पूरी साजिश पढ़े…

Desk : बिहार के बहुचर्चित ब्रह्मेश्वर मुखिया हत्याकांड में सीबीआई की ओर से पहले आरा कोर्ट में पूरक आरोप पत्र, उसके बाद डायरी और दस्तावेज सौंपे जाने के बाद पूर्व विधान पार्षद हुलास पांडेय समेत 8 आरोपियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं । वहीं सीबीआई ने लगभग 168 पेज की डायरी समेत 500 पन्नों के दस्तावेज कोर्ट में सौंपे हैं । इस मामले को लेकर 1 फरवरी को अगली सुनवाई होगी । आपको बता दें कि, 10 वर्षों बाद सीबीआई की पूरक चार्जशीट और भोजपुर पुलिस की ओर से घटना के कुछ माह बाद दाखिल चार्जशीट में हमलावरों की संख्या एक समान 8 है । वहीं चार नाम समान और चार अलग हैं । इन्हीं अलग नामों में एक पूर्व एमएलसी हुलास पांडेय हैं, जिन पर ब्रह्ममेश्वर मुखिया को 6 गोलियां मारने का आरोप है । वहीं माना ये भी जा रहा है कि, डायरी समर्पित होने से कोर्ट को केस की सुनवाई और आगे की कार्रवाई में आसानी होगी । यह आरोपित पटना से दिल्ली तक की दौड़ लगाना शुरू कर दिए हैं । लगभग 10 वर्षों की लंबी जांच के बाद सीबीआई ने गत वर्ष दिसंबर में आरा के तृतीय अपर जिला और सेशन कोर्ट सह विशेष एमपी-एमएलए कोर्ट में पूरक चार्जशीट दाखिल किया था । जिसमें पूर्व एमएलसी हुलास पांडेय सहित 8 लोगों को आरोपित किया गया है । बता दें कि, अन्य आरोपितों में नंद गोपाल पांडेय, अभय पांडेय, रितेश कुमार, प्रिंस पांडेय, अमितेश कुमार पांडेय, बालेश्वर राय और मनोज राय के नाम शामिल हैं।

Related Articles

Back to top button