Bihar

अंचल कार्यालय में किन्नरों का हंगामा देख, भागे कर्मचारी…

द इंडिया टॉप, सेंट्रल डेस्क गोपालगंज : बिहार के गोपालगंज जिले के मांझा अंचल कार्यालय में एक अजीबोगरीब मामला प्रकाश में आया है। बता दिन की जब बड़ी संख्या में किन्नर वहां पहुंचकर अचानक हंगामा जोड़ तोड़ से करने लगी। बताया जा रहा है कि किन्नर कुछ दिन पहले हादसे में एक किन्नर साथी की मौत हो गयी थी। मौत के बाद मुआवजा नहीं मिलने से सभी किन्नर नाराज थी। वहीं किन्नरों में आक्रोशित देखा गया है, तो वहीं आक्रोशित किन्नरों ने इस दौरान कार्यालय के प्रधान सहायक के साथ किन्नरों ने काफी बदसलूकी भी की है। किन्नरों के आरोप सुनकर कर्मचारी कुर्सी छोड़कर इधर-उधर भागने लगे। किन्नर मुआवजा देने की मांग कर रहे थे। किन्नरों का आरोप है कि मुआवजा देने के लिए रिश्वत मांगी जा रही थी। लेकिन बाद में कार्यालय में आए कुछ लोगों ने काफी मशक्कत के बाद किन्नरों को समझाकर शांत कराया। इसके बाद सभी किन्नर कार्यालय से बापस चले गए।

मृतक किन्नर के स्वजनोंं को मुआवजा देने की सभी किन्नर मांग कर रहे थे। किन्नरों का उनका आरोप था कि बीते गुरुवार को एक किन्नर अंचल कार्यालय में मुआवजे के बारे में पता लगाने के लिए आया था। तो उससे रिश्वत की मांग की किया गया था। जिसको लेकर किन्नरों के हंगामे के दौरान अंचल कार्यालय में अफरा – तफरी की माहौल बन गया था। सभी कर्मचारी हंगामा देख अपनी – अपनी कुर्सी छोड़कर इधर – उधर भागने में लग गए।

यह हादसा दो सप्ताह पहले हुआ था

आपको बता दें की मांझागढ़ थाना क्षेत्र के भड़कुइयां गांव निवासी 40 वर्षीय निक्की किन्नर की 27 अगस्त 2021 को महम्मदपुर थाना क्षेत्र के डुमरिया पुल के पास एक ट्रक की चपेट में आने से मौत हो गई थी। इस घटना की सुचना मिलने पर मौके पर सभी किन्नरों घटनास्थल पर पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया था। सभहि किन्नरों अपनी मृतक किन्नरों की मुआवजा की मांग करने लगे थे। सूचना मिलते ही घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने मुआवजा दिलाने का आश्वासन देकर किन्नरों को शांत करा दिया था, लेकिन किन्नर के स्वजनोंं को अब तक मुआवजा नहीं मिल पाया है। इससे नाराज किन्नर ने शुक्रवार को मांझा अंचल कार्यालय में पहुंचकर प्रदर्शन करते हुए सभी किन्नरों ने हंगामा करने लगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button