Bihar

देवघर में श्रद्धालु भगवान शंकर पर कर सकेंगे जलाभिषेक, कोरोना की वजह से दो सालों से लगा था ब्रेक

दो साल के लंबे अंतराल के बाद झारखंड के देवघर में इस बार फिर से सावन मेला लगेगा. बाबा नगरी देवघर में इस बार श्रद्धालु भगवान शंकर का दर्शन और जलाभिषेक कर सकेंगे. श्रावणी मेला की तैयारियों को लेकर देवघर समाहरणालय में समीक्षात्मक बैठक की गई. इस बैठक की अध्यक्षता देवघर डीसी मंजूनाथ भजंत्री ने की. बैठक के बाद देवघर डीसी ने कहा कि श्रावणी मेला की तैयारियों को लेकर यह बैठक की गई थी. सभी विभागों को दिए गए कार्यों की आज समीक्षा की गई और समय रहते सभी कार्य पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं.

डीसी ने बताया कि देवघर मंदिर सहित विभिन्न स्थलों का जायजा भी लिया गया है और आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए गए हैं. देवघर बाबा मंदिर में शीघ्र दर्शन की नई व्यवस्था लागू की जाएगी वही कांवरिया पथ की तैयारियां भी शुरू कर दी गई है. दूसरी तरफ कांवरिया पथ में बने होल्डिंग पॉइंट में श्रद्धालुओं को रोका जाएगा. इसके अलावा देवघर बाबा मंदिर के समीप क्यू कांप्लेक्स में भी तीन कमरों में बैरिकेटिंग की गई है.

देवघर डीसी ने कहा कि सभी तैयारियां युद्धस्तर पर चल रही हैं. इस बार श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ेगी इसके लिए विभिन्न जगह पर होल्डिंग पॉइंट बनाए जा रहे हैं. इसके अलावा देवघर नगर निगम और पेयजल स्वच्छता विभाग को पानी की समुचित व्यवस्था करने और निगम को समुचित सफाई की व्यवस्था करने का निर्देश जारी किया गया है जिसमें स्वयंसेवी संस्थाओं की भी मदद ली जाएगी. डीसी ने कहा कि सभी विभागों के टेंडर हो चुके हैं और सभी के कार्य सुनिश्चित कर इन्हें फील्ड में भी भेज दिया गया है. समय रहते सभी कार्य निष्पादित कर दिए जाएंगे.

गौरतलब है कि 13 जुलाई से श्रावणी मेला की शुरुआत हो रही है. कोरोना महामारी के कारण 2 साल के अंतराल के बाद श्रावणी मेला का आयोजन हो रहा है, ऐसे में श्रद्धालुओं की संख्या में काफी इजाफा होने की उम्मीद जताई जा रही है. बैठक में देवघर एसपी, एसडीओ, डीडीसी सहित सभी विभागों के अभियंता और पदाधिकारी मौजूद रहे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button