BiharHot newsindiapoliticsstateState News

नहीं लागू होगी यूसीसी! यूसीसी पर नीतीश कुमार ने स्पष्ट की अपनी राय!

यूसीसी पर नीतीश की ना

प्रधानमंत्री मोदी ने भी हाल ही में UCC को लागू करने की बात को दुहराया। जिसके बाद से राजनीतिक हलको में प्रतिक्रिया का दौर शुरू हो गया। बीजेपी विरोधी पार्टियों के अगुआ नीतीश कुमार ने भी इस बारे में प्रतिक्रिया दी। दरअसल 15 जुलाई को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रतिनिधि मंडल ने सीएम नीतीश से मुलाकात की। मुलाकात में नीतीश कुमार से प्रतिनिधि मंडल ने यूसीसी लागू न होने देने का आश्वासन मांगा। इसपर नीतीश कुमार ने कहा कि यूसीसी को लेकर मेरी राय सदैव स्पष्ट रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को इसे लागू नहीं करने को लेकर पहले भी पत्र लिख चुका हूँ। मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि वो इसे लागू नहीं करने की दिशा में काम करते रहेंगे।

नीतीश पहले भी जता चूके हैं विरोध।

आपको बता दें कि वर्ष 2017 में भी यूसीसी का जिन्न बाहर आया था। उस वक्त नीतीश कुमार ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर कहा था कि यह गंभीर मसला है। ऐसे मसलों में जल्दबाजी नहीं की जानी चाहिए। इसे लेकर संसद से सड़क तक चर्चा होनी चाहिए। इस चर्चा की शुरुआत संसद से हो और फिर चर्चा परिचर्चा से ही फैसला किया जाए।
यूनिफॉर्म सिविल कोड(UCC) यानि समान नागरिक संहिता को लेकर खूब हल्ला मचा है। Uniform Civil Code को लेकर सबके अपने-अपने तर्क हैं। कोई इसे भारत की विविधता के लिए खतरा बता रहा है। कुछ लोग इसे धर्म विशेष के खिलाफ बनाया जा रहा कानून मान रहा है। हलांकि इसके पक्ष में तर्क देने वालों का कहना है कि यह महिलाओं के मानवाधिकार को सुरक्षित करेगा। वहीं “एक देश एक विधान” की बात करने वाले इसे समानता के अधिकार से जोड़ रहे हैं। इधर बीजेपी सरकार ने चुनावी मौसम में यूसीसी का राग फिर से अलापना शुरू कर दिया है। बीजेपी की तरफ से दावा किया जा रहा है कि वो जल्द ही यूसीसी(UCC) को लागू करेंगे।

आइए जानते हैं किन-किन देशों में लागू है यूसीसी।
अमेरिका।
पाकिस्तान
बांग्लादेश।
मलेशिया।
तुर्की।
इंडोनेशिया ।
सूडान ।
मिश्र।
आयरलैंड, इत्यादि।
भारत में गोवा राज्य में फिल्हाल यूसीसी लागू है।

बीजेपी की कोशिश है कि 2024 से पहले वो मध्यप्रदेश और उत्तराखण्ड में भी इसे लागू कर दे।

#Uniform Civil Code #Muslim Personal Law. #Nitis Kumar. #NO UCC #समान नागरिक संहिता।

Related Articles

Back to top button