National

एक बहन दारोगा तो दूसरी सिपाही, बिहार की बेटियों के जज्बे की हर तरफ तारीफ

पटना: कुछ सालों पहले तक बिहार में लड़कियों को घर से बाहर निकलना अपराध माना जाता था। लेकिन सरकार के लगातार जागरूकता और महिला सशक्तिकरण के प्रयासों से अब तस्वीर बदल रही है। आर्थिक तंगी से जूझ रहे परिवार के बच्चे भी शिक्षा और सरकारी नौकरी के प्रति जागरूक हुए।

भागलपुर के बेलहर की बेटियां देश के विभिन्न हिस्सों में परचम लहरा रंही है। बात करें सरसडा गांव की तो यहां की दो बहनें बिहार पुलिस में सिपाही के पद पर कार्यरत हैं। एक बहन ने अभी हाल ही में दारोगा परीक्षा में बाजी मार ली है।दारोगा बनते ही दोनों बहनों की हर तरफ तारीफ हो रही है।

किसान इंद्रदेव कुमार साह एवं अंजनी साहू की पुत्री अन्नू रानी और निशा रानी सिपाही है। अन्नू रानी का अब दारोगा में चयन हो गया है। दोनों बहने नारी सशक्तिकरण की मिशाल और लड़कियों के लिए प्रेरणाश्रोत बन गई हैं । बता दें बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लड़कियों को पुलिस में 35% आरक्षण देकर बेटियों के हौसले को बढ़ा दिया है। यही वजह है कि आज बिहार देशभर में सबसे अधिक महिला पुलिसकर्मियों वाला राज्य है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button