National

बिहार की बेटियों ने UPSC परीक्षा में लहराया परचम, पटना की इशिता किशोर ने पाया पहला स्थान दूसरे स्थान पर बक्सर की गरिमा लोहिया को मिली सफलता

23 मई को अंतिम रूप से यूपीएससी 2022 का परिणाम घोषित कर दिया गया है। मूल रूप से बिहार के पटना जिले की रहने वाली इशिता किशोर ने भारत की इस सबसे बड़ी प्रतियोगिता परीक्षा में पहला स्थान प्राप्त किया है जबकि बक्सर जिले की रहने वाली गरिमा लोहिया ने यूपीएससी की परीक्षा में पूरे देश भर में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। दोनों बेटियों ने बिहार का परचम पूरे देश में बुलंद किया है। UPSC के परिणाम में नारी शक्ति का परचम बुलंद हैं। टॉप चार उम्मीदवार महिलाएं हैं। ऐसा पहली बार हुआ है कि 34 बेटियों ने UPSC की कठिन परीक्षा में सफला हासिल की है।
देश में सर्वाधिक यूपीएसी पास करने वाले बिहार राज्य से होते हैं। संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा का परिणाम जब भी घोषित होता है बिहार के लाल उसमें हमेशा आगे रहते हैं। बिहार में लगातार बेहतर हो रहे शैक्षणिक माहौल के कारण विगत वर्षों से UPSC परीक्षा में बिहार का प्रदर्शन लगातार बेहतर होता जा रहा है। वर्ष 2020 के यूपीएससी टॉपर शुभम कुमार, बिहार के ही रहने वाले हैं।

यहां है बिहार के इस बार के यूपीएससी टॉपरों की लिस्ट

बिहार से टॉप टेन में पहले स्थान पर पटना की इशिता किशोर, दूसरे स्थान पर बक्सर की गरिमा लोहिया और दसवें स्थान पर पटना के राहुल श्रीवास्तव हैं। मधुबनी जिले के संदीप ने 24 वां स्थान हासिल किया है वहीं शिवहर जिले के प्रिंस ने 89 वां रैंक हासिल किया है। यूपीएससी में बिहार का नाम रोशन करने वाले अन्य अभ्यर्थियों में मधुबनी की आकांक्षा को 371 वां जबकि मधुबनी जिले के ही मनीष को 711 वां स्थान प्राप्त हुआ है।

Related Articles

Back to top button