National

बिहार सरकार की ऐसी सुपरहिट योजनाएं, जिन्हें केंद्र सरकार ने अपनाया और पूरे देश में लागू किया।

बिहार ज्ञान की भूमि है। बिहार की मिट्टी में अंकुरित हुए बौद्ध धर्म के माध्यम से दुनिया ने मध्यम मार्ग को जाना, समझा और अपनाया। बिहार का नालंदा विश्वविद्यालय अध्ययन का सबसे बड़ा और सबसे प्राचीन केन्द्र रहा है। दूर दृष्टि रखने वाला बिहार, एक मार्गदर्शक के रूप में देश और दुनिया को राह दिखाता रहा है। बिहार के यही गुण यहां की शासकीय योजनाओं में भी देखने को मिलती हैं। बिहार सरकार की कुछ ऐसी महत्वपूर्ण योजनाएं हैं, जिन्हें केन्द्र सरकार के द्वारा अपनाकर उसे पूरे देश में लागू किया गया।

हम आपको एक एक करके उन सभी योजनाओं के बारे में बताएंगे जिन्हें बिहार सरकार ने लागू किया और उसके अद्भूत परिणामों को देखकर बाद में केंद्र सरकार ने पूरे देश में उसे लागू किया।

जीविका योजना– वर्ष 2007 में इस योजना की शुरुआत हुई थी। स्वयं सहायता समूहों पर आधारित योजना को दुनिया भर में ख्याति मिल चुकी है। इसी योजना की तर्ज पर केंद्र सरकार के द्वारा वर्ष 2011 में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की शुरुआता की गई।

हर घर नल योजना– बिहार सरकार के द्वारा हर घर तक नल का जल पहुंचाने के लिए सितंबर 2016 को हर घर नल जल योजना की शुरुआत की गयी थी। इसी योजना की तर्ज पर अगस्त 2019 को केंद्र सरकार के द्वारा जल जीवन मिशन के तहत हर घर तक नल के जल की व्यवस्था की योजना बनाई गई।

हर घर बिजली योजना– बिहार सरकार के द्वारा नवंबर 2016 में हर घर बिजली योजना की शुरुआत की गई। जिसे केंद्र सरकार के द्वारा सितंबर 2017 में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना के नाम से शुरू किया गया।

तालाब पुनरुद्धार और सौंदर्यीकरण योजना– बिहार सरकार ने जल जीवन हरियाली मिशन के तहत 2019 में तालाबों और जलाशयों के पुनरुद्धार की योजना बनाई थी। बिहार सरकार की इस योजना के आधार पर 2022 में केंद्र सरकार ने अमृत सरोवर योजना की शुरुआत की।
बिहार सरकार की इन योजनाओं की सफलता की कहानी सुनकर देश-विदेश की टीमें उसके क्रियान्वयन को देखने के लिए बिहार आती रही और अध्ययन के पश्चात इसे अन्य सरकारों के द्वारा लागू किया गया।

Related Articles

Back to top button