BiharBJPBreaking Newspolitics

मंत्रियों के विभाग बंटवारे पर संकट, जल्द ही दिल्ली जा सकते हैं CM नीतीश कुमार

Desk : बिहार में एनडीए की सरकार बने हुए 6 दिन बीत गए। इसके बाद भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 8 मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा नहीं कर सके हैं। समय बीतते जा रहा है और तमाम मंत्री बिना विभाग के ही बैठे हैं। सरकार का काम काज पूरी तरह से ठप पड़ा है। कहा जा रहा है कि मंत्रियों में विभाग बंटवारे को लेकर पेंच फंसा है। भाजपा इस बार ताकतवर विभाग की डिमांड कर रही है। लेकिन बीजेपी की डिमांड को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार स्वीकार नहीं कर रहे। यही वजह है कि शपथ लिए मंत्रियों के बीच डिपार्टमेंट का बंटवारा नहीं हो पाया है। राजनीतिक गलियारे में यह भी चर्चा है कि नीतीश कुमार फिर बड़े संकट में फंस गए हैं। आखिर संकट से वे कैसे निकलेंगे?

6 दिन बाद भी मंत्रियों को नहीं मिला विभाग

बिहार में 28 जनवरी को एनडीए की सरकार बनी। भाजपा ने एक बार फिर से नीतीश कुमार को गठबंधन का नेता माना। इस तरह से वे नौवीं दफे बिहार के मुख्यमंत्री बन गए। भाजपा कोटे से दो डिप्टी सीएम बनाए गए। सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा. इसके अलावे डॉ. प्रेम कुमार को भी भाजपा कोटे से मंत्री बनाया गया है। जेडीयू कोटे से विजय चौधरी, बिजेन्द्र प्रसाद यादव और श्रवण कुमार को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई। जबकि हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा से संतोष सुमन और निर्दलीय सुमित कुमार सिंह भी मंत्री बनाए गए हैं। नई सरकार में मुख्यमंत्री समेत 9 सदस्य शामिल हैं। लेकिन सबसे बड़ी बात यह कि सरकार के मंत्री बिना विभाग के हैं। नए मंत्री क्या करें उन्हें भी समझ में नहीं आ रहा। शपथ लिए मंत्रियों को भी लगने लगा है कि कुछ न कुछ गड़बड़ है। तभी तो मुख्यमंत्री विभागों का बंटवारा नहीं कर पा रहे हैं। ऐसी हालात शायद ही कभी आई हो, जब मंत्रियों को विभाग के लिए लंबा इंतजार करना पड़ रहा है।

मुख्यमंत्री का है विशेषाधिकार- सम्राट

मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा क्यों नहीं हो रहा ? इस पर आज शुक्रवार को सरकार में नंबर-2 की कुर्सी संभालने वाले डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी ने अपनी चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि बहुत जल्द हो जाएगा। विभागों का बंटवारा या मंत्रिमंडल का विस्तार मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार होता है। मंत्रियों के बीच विभाग का बंटवारा नहीं होने, कैबिनेट विस्तार की तारीख बढ़ने पर राजद की तरफ से सवाल उठाए जाने पर सम्राट चौधरी ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। कहा कि यह वही राजद है जब 1995 में महज 12 मंत्रियों से ही लालू यादव ने सरकार चलाई थी। ये लोग क्या बोलेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात कर सकते हैं नीतीश कुमार

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बहुत जल्द दिल्ली दौरे पर जा सकते हैं। दिल्ली में वे प्रधानमंत्री से मिल सकते हैं। बताया जा रहा कि अगले हफ्ते दिल्ली जाने की तैयारी है। उनका दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की योजना है। हालांकि आधिकारिक तौर पर इसकी जानकारी नहीं आई है। लेकिन विश्वस्त सूत्र बताते हैं कि नीतीश कुमार बहुत जल्द प्रधानमंत्री मोदी से मिलने वाले हैं.।

Related Articles

Back to top button